पिछली गर्मियों की बात है जब मेरे पति की मौसी का लड़का विकास हमारे घर आया हुआ था, वो बहुत ही सीधा साधा और भोला सा है, उसकी उम्र करीब 19-20 की होगी, मगर उसका बदन ऐसा कि किसी भी औरत को आकर्षित कर ले, मगर वो ऐसा था कि लड़की को देख कर उनके सामने भी नहीं आता था। मगर मैं उस से चुदने के लिए तड़प रही थी और वो ऐसा बुद्धू था कि उसको मेरी जवानी दिख ही नहीं रही थी, मैं उसको अपनी गाण्ड हिला हिला कर दिखाती रहती मगर वो देख कर भी दूसरी और मुँह फेर लेता। जहाँ तक कि मैं वैसे भी उसके साथ बात करती तो वो शर्म से अपना मुँह छिपा रहा होता। मैं समझ चुकी थी कि यह शर्मीला लड़का कुछ नहीं करेगा, जो करना है मुझे ही करना है।
एक दिन मैं सुबह के वक्त मैं अपनी सास और ससुर को चाय देकर जब उसके कमरे में चाय लेकर गई तो वो सो रहा था मगर उसका बड़ा सा कड़क लौड़ा जाग रहा था, मेरा मतलब कि उसका लौड़ा पजामे के अन्दर खड़ा था और पजामे को टैंट बना रखा था।

मेरा मन उसका लौड़ा देख कर बेहाल हो रहा था कि अचानक उसकी आँख खुल गई, वो अपने लौड़े को देख कर घबरा गया और झट से अपने ऊपर चादर लेकर अपने लौड़े को छुपा लिया। मैं चाय लेकर उसकी चारपाई पर ही बैठ गई और अपनी कमर उसकी टांगों से लगा दी. वो अपनी टाँगें दूर हटाने की कोशिश कर रहा था मगर मैं ऊपर उठ कर उसके पेट से अपनी गाण्ड लगा कर बैठ गई।
उसकी परेशानी बढ़ती जा रही थी और शायद मेरे गरम बदन के छूने से उसका लौड़ा भी बड़ा हो रहा था जिसको वो चादर से छिपा रहा था।
मैंने उसको कहा- विकास उठो और चाय पी लो !
मगर वो उठता कैसे उसके पजामे में तो टैंट बना हुआ था, वो बोला- भाभी, चाय रख दो, मैं पी लूँगा।
मैंने कहा- नहीं, पहले तुम उठो, फिर मैं जाऊँगी।
तो वो अपनी टांगों को जोड़ कर बैठ गया और बोला- लाओ भाभी, चाय दो।
मैंने कहा- नहीं, पहले अपना मुँह धोकर आओ, फिर चाय पीना।

अब तो मानो उसको कोई जवाब नहीं सूझ रहा था, वो बोला- नहीं भाभी, ऐसे ही पी लेता हूँ, तुम चाय दे दो।
मैंने चाय एक तरफ़ रख दी और उसका हाथ पकड़ कर उसको खींचते हुए कहा- नहीं, पहले मुंह धोकर आओ फिर चाय मिलेगी।
वो एक हाथ से अपने लौड़े पर रखी हुई चादर को संभाल रहा था और चारपाई से उठने का नाम नहीं ले रहा था।
मैंने उसको पूछा- विकास, यह चादर में क्या छुपा रहे हो?
तो वो बोला- भाभी कुछ नहीं है।
मगर मैंने उसकी चादर पकड़ कर खींच दी तो वो दौड़ कर बाथरूम में घुस गया। मुझे उस पर बहुत हंसी आ रही थी। वो काफी देर के बाद बाथरूम से निकला जब उसका लौड़ा बैठ गया।
ऐसे ही एक दिन मैंने अपने कमरे के पंखे की तार डंडे से तोड़ दी और फिर विकास को कहा- तार लगा दो।
वो मेरे कमरे में आया और बोला- भाभी, कोई स्टूल चाहिए जिस पर मैं खड़ा हो सकूँ।
मैंने स्टूल ला कर दिया और विकास उस पर चढ़ गया, तो मैंने नीचे से उसकी टाँगें पकड़ ली, मेरा हाथ लगते ही जैसे उसको करंट लग गया हो, वो झट से नीचे उतर गया।

मैंने पूछा- क्या हुआ देवर जी? नीचे क्यों उतर गये?
तो वो बोला- भाभी जी, आप मुझे मत पकड़ो, मैं ठीक हूँ।
जैसे ही वो फिर से ऊपर चढ़ा, मैंने फिर से उसकी टाँगें पकड़ ली वो फिर से घबरा गया और बोला- भाभी जी, आप छोड़ दो, मुझे मैं ठीक हूँ।
मैंने कहा- नहीं विकास, अगर तुम गिर गये तो.?
वो बोला- नहीं गिरता.. आप स्टूल को पकड़ लीजिये..
मैंने फिर से शरारत भरी हंसी हसंते हुए कहा- अरे स्टूल गिर जाये तो गिर जाये, मैं अपने प्यारे देवर को नहीं गिरने दूंगी.
मेरी हंसी देख कर वो समझ गया कि भाभी मुझे नहीं छोड़ेंगी और वो चुपचाप फिर से तार ठीक करने लगा।

मैं धीरे धीरे उसकी टांगों पर हाथ ऊपर ले जाने लगी जिससे उसकी हालत फिर से पतली होती मुझे दिख रही थी। मैं धीरे धीरे अपने हाथ उसकी जाँघों तक ले आई मगर उसके पसीने गर्मी से कम मेरा हाथ लगने से ज्यादा छुट रहे थे। वो जल्दी से तार ठीक करके बाहर जाने लगा तो मैंने उसका हाथ पकड़ लिया और बोली- देवर जी, आपने मेरा पंखा तो ठीक कर दिया, अब बोलो मैं आपकी क्या सेवा करूँ?
तो वो बोला- नहीं भाभी, मैं कोई दुकानदार थोड़े ही हूँ जो आपसे पैसे लूँगा।
मैंने कहा- तो मैं कौन से पैसे दे रही हूँ, मैं तो सिर्फ सेवा के बारे में पूछ रही हूँ, जैसे आपको कुछ खिलाऊँ या पिलाऊँ?
वो बोला- नहीं भाभी, अभी मैंने कुछ नहीं पीना !
और बाहर भाग गया।

मैं उसको हर रोज ऐसे ही सताती रहती जिसका कुछ असर भी दिखने लगा क्योंकि उसने चोरी चोरी मुझे देखना शुरू कर दिया, मैं जब भी उसकी ओर अचानक देखती तो वो मेरी गाण्ड या मेरी छाती की तरफ नजरें टिकाये देख रहा होता और मुझे देख कर नजर दूसरी ओर कर लेता। मैं भी जानबूझ कर उसको खाना खिलाते समय अपनी छाती झुक झुक कर दिखाती, कई बार तो बैठे बैठे ही उसकी पैंट में तम्बू बन जाता और मुझसे छिपाने की कोशिश करता।
मैं तो उसका लौड़ा अपनी चूत में घुसवाने के लिए बेक़रार थी, अगर सास-ससुर घर पर ना होते तो अब तक मैंने ही उसका बलात्कार कर दिया होता।

मगर जल्दी मुझे ऐसा मौका मिल गया। एक दिन हमारे रिश्तेदारों में किसी की मौत हो गई और मेरे सास ससुर को वहाँ जाना पड़ गया।
मैंने आपने मन में ठान ली थी कि आज मैं विकास से चुद कर ही रहूंगी।
सास-ससुर के जाते ही विकास भी मुझसे बचने के लिए बहाने की तलाश में था, पहले तो वो काफी देर तक घर से बाहर रहा, एक घंटे बाद जब मैंने उसके मोबाइल पर फोन किया और खाना खाने के लिए घर बुलाया तब जाकर वो घर आया।
मैं अपना और उसका खाना अपने कमरे में ही ले गई और उसको अपने कमरे में बुला लिया, मगर वो अपना खाना उठा कर अपने कमरे की ओर चल दिया, मेरे लाख कहने के बाद भी वो नहीं रुका तब मैं भी अपना खाना उसके कमरे में ले गई और बिस्तर पर उसके साथ बैठ गई।
वो फिर भी मुझसे शरमा रहा था, मैंने अपना दुपट्टा भी अपनी छाती से हटा लिया मगर वो आज मुझसे बहुत शरमा रहा था, उसको भी पता था कि आज मैं उसको ज्यादा परेशान करूंगी।
मैंने उससे पूछा- विकास.. मैं तुम को अच्छी नहीं लगती क्या.?
तो वो बोला- नहीं भाभी, आप तो बहुत अच्छी हैं.
मैंने कहा- तो फिर तुम मुझसे हमेशा भागते क्यों रहते हो.?
वो बोला- भाभी, मैं कहाँ आपसे भागता हूँ?
मैंने कहा- फिर अभी क्यों मेरे कमरे से भाग आये थे, शायद मैं तुम को अच्छी नहीं लगती, तभी तो तुम मुझसे ठीक तरह से बात भी नहीं करते।

“नहीं भाभी, अभी तो मैं बस यूँ ही अपने कमरे में आ गया था.. आप तो बहुत अच्छी हैं..”
मैंने कहा- झूठ मत बोलो ! मैं तुम को अच्छी नहीं लगती, तभी तो मेरे पास भी नहीं बैठते। अभी भी देखो कैसे दूर होकर बैठे हो? अगर मैं सच में तुम को अच्छी लगती हूँ तो मेरे पास आकर बैठो..
मेरी बात सुन कर वो थोड़ा सा मेरी ओर सरक गया।
यह देख कर मैं बिलकुल उसके साथ जुड़ कर बैठ गई जिससे मेरी गाण्ड उसकी जांघ को और मेरी छाती के उभार उसकी बाजू को छूने लगे..
मैंने कहा- ऐसे बैठते हैं देवर भाभियों के पास.. अब बोलो ऐसे ही बैठो करोगे या दूर दूर.?
वो बोला- भाभी, ऐसे ही बैठूँगा मगर मुझे मौसी गुस्सा तो नहीं होगी? क्योंकि लड़कियों के साथ ऐसे कोई नहीं बैठता।
मैंने कहा- अच्छा अगर तुम अपनी मौसी से डरते हो तो उनके सामने मत बैठना। मगर आज वो घर पर नहीं है इसलिए आज जो मैं तुम को कहूँगी वैसा ही करना।
उसने भी शरमाते हुए हाँ में सर हिला दिया.
अब हम खाना खा चुके थे, मैंने उसे कहा- अब मेरे कमरे में आ जाओ.
वो बोला- भाभी, आप जाओ, मैं आता हूँ।

loading...

Write A Comment


Online porn video at mobile phone


Tadap Tadap Ke Ye ladki ka chutटाईट चूतhindi chavat katha aunty special sex story mom didi dad aur mera family group sexचाची ओर माँ चोदा कहनीhindi saxestoris. sas sasur garmi me chat pe sax land store hinde meladki ne ghar ke kutte ke seth burfad chudai sex story img didi aur bibi ka takerbhabhi ki maksi mai maari chhote se devar ne x video downloadबहन की चोदई देखीslime sexy sarry wali babhi cgudai videoscousen s chudawyaभाभी नै चुत दिखाइ सकस कहानीचेतन का लड कि फोटोKuvari madm Sexi muviकच्ची कली को चोदा रास्ते में जबरदसती लंड दबा कर porn ki kahaniछोटी चुत कहानीkahane hendeनशीली रातसेक्सीbap se tel malis gand chodai kahanisexkahanisex kahani didi papa groupबुर कि चुदाइमाँ की जबरन चोदाइ xxnxAntarvasna latest hindi stories in 2018hinde sxe kahani masex storish hindikamuktaखतरनाक छोड़न स्टोरीbhabi khala mousi sex storybaap bete ki xxx khaniyain mastram .comछोटेबचे केसात सेकसिdidi ne palla fir codai khani hindi mechut cutte ne mari hindi khaniristo me chut milibur ka bar xxx chatxxx storay many bitasadhu ke sath adlabdli xcx storymaa ko lund ka rus pilaya storyGAON MAIN RISTON MAIN CUDAI KI LAMBI KAHANImajedarchudai.comxxx khani hindi me online bahn ki cu xxx nude aunty and uncle having xxxhindisexstorykahnilocal chudai dost ki mom se phottosex pndit ne Resma ko shop me choda satory.comx hndi kahani with photo ke sth gndi bat krke bap bhai ne peladaijest antrwasnakamukta.comdesi. gamdani. aunty. pesab. karti .huihinadi sex storyEk Khadi Hotel par baith kar sexy videosex hindi kahani rishto me photo.comhindi chudai kahaniyan rajsthan ghaghra kholaबुर की चुदास का पानीSexy hot story bhaiya k sath so rahi thiदीदी ने मूत पिला कर छुड़ायाsexy video Hindi Now ladkeki sass roz sab chodte haino1 sex kahanixxxससुराल से बस तक दीदी की चुदाईxxx hindi kahani chut muslim nokar chut safepariwar me chudai ke bhukhe or nange logbhabhi ki kahaniyaनयी चूत की कहानियाँhindi kahani ladki janwar se chudaihum bahano ki lesbian real sex storyxxxhind malik nokrani storymosi ka bahut bada bhosda kahani hindiबाढा बुर बिडियो batroom me naha ne bahi gi ka videosaxy kahnicomआरती की नयी चूत की कहानीचोदयी कैसे की जाती है लिक आये हिदी मेमोठे बोल वालि ante xvideos indanaxxx padosan bhabe ko garbhwate baniay sakx katha.com Mhrati aunti sax stori hindi antrvsanagad chody storixxx sexy chudai kahani with picturesDidi aur jiju ne mera balatkar kiyaxxx sex fatgai khon agaya hindiमाँ बेटा. की. कहनीxxxविडीयोdesi garls 21sal ki saxxx vidoexxx.zoo.kahani.hindi.namard.ke.kamuk.bibi.ki.chudai.ki.kahaniyaantarvasnaउमा की चुदाईbahin bahixxxii video hindiचलती गाड़ी में चुदाई