बात सर्दियों के दिनों की हैं ! मैं अपनी जॉब बदलने की कोशिश कर रहा था। मैं कोटा की एक बहु-राष्ट्रीय कम्पनी में साक्षात्कार देने के लिए गया था। साक्षात्कार के समय पर मेरी मुलाकात जन सम्पर्क अधिकारी शुभान्शी से हुई। उसकी शोर्ट स्कर्ट देख कर ही मेरा लण्ड खड़ा हो रहा था !

मैं पागलों की तरह बस उसकी चूचे और गांड को देख रहा था। उसकी गांड और चूचों को देख कर मेरा लण्ड एकदम तन गया था। मैंने टांग के ऊपर टांग रख कर उसे दबाने की कोशिश की पर लण्ड बैठने का नाम नहीं ले रहा था। तभी मेरा नाम बोला गया। मैंने सामान्य होने की कोशिश करते हुए अंदर प्रवेश किया पर मेरा खड़ा हुआ लण्ड साफ़ दिखाई दे रहा था और शुभान्शी की निगाह अब मेरे लण्ड पर लग चुकी थी।

गुड मॉर्निन्ग मैडम कह कर मैं लण्ड को छुपाते हुए कुर्सी पर बैठ गया। मैं शुभान्शी से निगाह नहीं मिला पा रहा था। निगाह ना मिलाने का एक कारण उसकी चूचियाँ थी जिसकी वज़ह से मेरा लण्ड बैठने का नाम नहीं ले रहा था।

पर शुभान्शी शायद लण्ड की प्यासी थी, उसने मुझसे कहा- आप को बैठने के लिए किसने बोला था?

मैंने कहा- माफ़ करें मैडम ! मैं मजबूर हूँ !

उसने मुझे खड़े होने के लिए कहा और खुद भी अपनी सीट से खड़ी हो गई। लेकिन मैं खड़ा नहीं हुआ। अब वह खड़ी होकर मेरे लण्ड को निहार रही थी। ऐसा लग रहा था कि वो लण्ड से खेलना चाहती थी। मैंने हाथ से लण्ड को नीचे कर दोनों टांगों के बीच में लण्ड को दबा लिया। अब मैं अपने आप को सुरक्षित महसूस कर रहा था और उसी दशा में मैं सीधा खड़ा भी हो गया। उसने मेरा नाम पूछा और कहा- तुम क्या छिपाने की कोशिश कर रहे हो? भगवान ने इसे छुपाने के लिए नहीं बनाया है।

मैं उसकी बात सुनकर सकपका गया और मेरा चेहरा शर्म से लाल हो गया, मैंने कहा- कुछ नहीं मैडम !

उसके बाद मैं सामान्य हो गया पर शुभान्शी के मन में कुछ और था और वह खुल कर बोलने लगी- तुम लण्ड क्यों छुपा रहे हो?

मैं ऐसा सुन कर मन ही मन में सोचने लगा- आज तो भगवान मुझ पर मेहरबान हैं !

मैंने कहा- मैडम, आपकी चूची और गांड को देखकर मेरा लण्ड खड़ा हो गया है और अब यह बैठने का नाम नहीं ले रहा है ! और आप इन्टरव्यू लेने की बजाए मुझे छेड़ रही हैं ! बस इसी वज़ह से मैं ना तो आपसे निगाह मिला पा रहा हूँ और लण्ड को छुपा रहा हूँ। असल में मैंने आपको जब टेस्ट के समय देखा था तभी से भगवान से प्रार्थना कर रहा था कि आपकी चूत मारने का मौका दिलवा दे !

शुभान्शी ने कहा- मुझे तुम्हारी निडरता अच्छी लगी।

तब मैंने कहा- और मेरा लण्ड?
उसने कहा- तुम उतने शरीफ नहीं हो जैसा मैं सोच रही थी। तुम काफ़ी शरारती हो ! तुम इस नौकरी के लिय चुन लिए गए हो ! आज शाम 11 बजे मुझे इस पते पर मिलो !

मैं फूला नहीं समा रहा था और मुझे वो कहावत याद आ रही थी- जब भगवान देता है तो छप्पर फ़ाड़ कर देता है !

मैंने धन्यवाद मैडम ! कह कर शुभान्शी से हाथ मिलाने के बहाने उसकी चूची पर चुटकी भर दी और वह चहुंक उठी।

वो कौन सी पीछे रहने वाली थी, उसने आगे बढ़कर सीधा लण्ड को पकड़ कर सहला दिया।.मैं सावधानी बरतते हुए जल्दी से वहाँ से निकल लिया और बस रात का इंतज़ार करने लगा।

आखिर रात भी आ गई और मैं उसके बताये स्थान पर पहुँच गया। उसने नाईटी पहन रखी थी और वह घर पर अकेली थी। वो अपनी सहेली के साथ कमरे में रहती थी। उसकी सहेली बाहर पार्टी में गई थी। उसकी नाईटी में से सब कुछ साफ़ साफ़ दिख रहा था। दरवाजे पर ही उसने मुझे चूमना शुरू कर दिया। मैंने भी उसका पूरा साथ दिया और जम कर उसके होंठों को चूसा और एक हाथ से दरवाजा बंद कर दिया।

अब धीरे-2 उसके चूचे दबाने लगा। इतनी ठण्ड होने के बावजूद हम दोनों गरमाने लगे थे। धीरे-2 दोनों नंगे हो गए। शुभान्शी पहले से खेली-खाई लग रही थी और वह सीधा लण्ड को पकड़ कर चूसने लगी। मैं भी उसके बालों को पकड़ कर उसके मुँह को अपने लण्ड से चोदने लगा। 30-35 झटकों के बाद मैं उसके मुँह में झड़ गया। मुझे अपनी किस्मत पर यकीन नहीं हो रहा था कि सुबह मैं जिसकी चूत मारना चाह रहा था, वो अब मेरे लण्ड को चूस रही है। थोडी देर बाद ही मेरा लण्ड फिर से खड़ा हो गया और इस बार में उसके स्तन मुँह में लेकर चूस रहा था और हाथ से उसकी चूत के दाने को रगड़ रहा था।

शुभान्शी एकदम गरम हो चुकी थी और कह रही थी- अब मुझसे कण्ट्रोल नहीं हो रहा है, मेरी चूत को चोद दो !

मैंने भी उसकी गांड के नीचे तकिया लगाया, अपने लण्ड को उसकी चूत के छेद पर लगा कर सीधा जोर लगाया और आधा लण्ड उसकी चूत में घुस गया। उसकी चूत कसी थी और उस झटके से उसके मुँह से चीख निकल गई। मैंने उसके मुँह पर हाथ रख कर उसे रोका।

थोड़ी देर में ही उसे मजा आने लगा और गांड हिला-2 कर खुद चुदने लगी। धीरे-2 मैंने भी अपनी स्पीड बढ़ा दी। उसके मुँह से आह ऊह्ह आः उछ स सी की आवाज़ निकल रही थी। मुझे अब अनुभव हो रहा था कि धरती पर कही स्वर्ग है तो चूत मारने में ही है। दोस्तों आप ये कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है ।

करीब 25-30 झटकों में वो और मैं दोनों एक साथ झड़ गये और काफी देर तक एक दूसरे से लिपटे रहे। कुछ देर बाद फिर से हम दोनों एक दूसरे को वासना भरी नजरों से देख रहे थे।

इस बार मेरी निगाह उसकी गांड पर थी पर वो इससे अनजान थी। मैंने ढेर सारी क्रीम लेकर उसकी गांड के छेद पर लगाई। वो बोली- यह क्या कर रहे हो ?

तो मैंने कहा- तुम्हारी गांड देख कर ही मेरा लण्ड सुबह तन गया था।

अब वह समझ चुकी थी कि गांड चुदने का समय आ गया है।

उसने कहा- मैंने अभी तक गांड नहीं मरवाई है।

मैंने कहा- अब मरवाओ ना !

इतना कह कर मैंने लण्ड का सुपारा उसकी गांड के छेद पर लगाया और हल्का सा धक्का लगाया। सुपारा छेद में चला गया। गांड बहुत ज्यादा तंग थी। दर्द के साथ-2 बहुत मजा आ रहा था। वह भी दर्द के मारे अ आ या ऊह रहने दो ! चिल्ला रही थी।

थोड़ी देर में ही वह सामान्य हो गई और उसे भी मजा आने लगा। अब मैं भी पूरा लण्ड उसकी गांड में बार बार अंदर-बाहर कर रहा था। काफी देर तक चुदाई करने के बाद मैं उसकी गांड में झड़ गया। इस तरह उसकी गांड और चूत की चुदाई पूरी रात चलती रही। उसके बाद उसने मुझे अपनी सहेली यानि रूम पार्टनर से भी मिलवाया। उसकी चुदाई की कहानी बाद में !

loading...

Write A Comment


Online porn video at mobile phone


गरब पती वाला बच्चा चुत सेकसीपापा बहु चूतsilsiilay xxxi Call karne wali sexyrep chudai ki bp xxxy kahaniyaराखी के दिन भाई ने जबरदस्ती की सेक्सचुत.कि.कहानी.पडने वालीdidi ki bad hamko bhi choda kahaniyaxxx hausevife srx desi hdfullस्टेशन पर चोदाhindi.family with.sex.story.kahanidesi gande kahani hinde pati jiचाची के बनियानी के xxx photomami aur biwi ki cudai ki ek sath publichindi sex khaniya risto melrtest sabita bhai borr fat chdaischool bus me jbrdsti sex ki kahanighar ka mal sexy khani.comदेसी हिनदीसेकस रेपhindi sex stories. chudayiki sex kahaniya. kamukta com. antarvasna com/meglass.ru/tag/page no 69 to319लोली का लड बेटे और बाप की कहनीsaxy hindi kahanixxx bhukhi awratचूत चोदई वीडयो मजा लेते हुए aunty ko mutate hue dekhaमाँ बहन लेसिबिन सेक्स कथाpadosi ne bahan ki gand se khoon nikala xxx storyx** sexy kahani Pahli chudai ki Hindi mein likhi huigunjan.shingha.holi.video.gaon me chudai kuch galat nahikhetme chudaika maza kahani.comhede me bhabhe devr ma beta sexe vedeo davlodeg freeबीवी को बनाया घोडी ओर गांड मारी नयी कहनिया hindesixy.comall hindi sex stories sote hue meri chut padi padoshi ne zabarjustiभाभी को माँ बनने के लिए भाई ने मुझसे कहाGaand Me Papa Ka Lund NonvegeStory.Combhai bhain collage me jaberdasti chudi ke xxx hindi storysgaav ke ledke ke pahele vergin chut chudai real sex khani.Antervasna sitorichut chudai bhosda bnwaya kutiya rndi. stry in hindihousewife sexy storypariwar me chudai ke bhukhe or nange logsxi.hende.khanepunjabi bhabhi kalli ghare usko choda xxxxsirf boy ro boy secxx bidioxxx bahu desi storis.comhindesixe.comछोटी बहन पोरन लडकीsexy video Sandy pata haixxx saxsy mom ki malish ki khaniabhatije 7e gand chodai kahaniम जे चुड़ै क्सक्सक्स स्टोरी इन हिंदीchhote bhai 1 foot land se chudayi storysexy jethani or devrani nangikamsin xxx kahanisexy storysard ratien.bhai bahan.hot kahaniasavita bhabhi ki chudai in hindipariwar me chudai ke bhukhe or nange logरश बरी सेक्सी कहानिया व फोन नम्बरप्राइवेट ट्यूशन के बहाने घर बुलाकर मेरी च**** देखें वीडियो सेक्सीलङकी के साथ जानवर sex stories in hindidevar bhabhi ki khani likhi huokapde phanate samy xnxx vidosxvidio bade bhai akele ghar meri seel todi sex story hindivirgin कहानीमा बुर बिबियोindian nakedhindi ma saxe khaneyabhag raneg hot xxxमाँ ke cadai bada pornxxx hindi vidio bhatije ka bula kachudesexy woman hindime kahanisalien.geja.suhagrat.six.com