हेल्लो दोस्तों, मेरा नाम कनिका है और में हरयाणा की रहने वाली हूँ। दोस्तों में सेक्सी की बहुत भूखी हूँ, लेकिन एक रंडी नहीं और मेरी यह आज की कहानी मेरी पराए मर्द से पहली चुदाई की एक घटना है। दोस्तों में अब 42 साल की हूँ और संजीव जीजाजी 58 साल के है और मेरे फिगर का साईज 44-40-48 है। मेरी लम्बाई 5 फीट 7 इंच है और संजीव 6 फीट 1 इंच लंबे चौड़ी छाती और थोड़ी मोटे है, लेकिन बहुत अच्छे स्वभाव के है। दोस्तों अब में आप सभी को मेरा पहला सेक्स अनुभव बताती हूँ। यह मेरा सेक्स संजीव से कैसे शुरू हुआ? दोस्तों बात 1996 की है तब में 25 साल की थी। उन दिनों मेरे पति भी आर्मी में थे तभी उनको कुछ बीमारी लग गई और वो बहुत ज्यादा बीमार हो गये और तब ज्यादा मोबाइल नहीं होते थे। तभी मुझे टेलिग्राम से यह मैसेज मिला और में बहुत घबरा गई और मेरी समझ में कुछ नहीं आ रहा था। में बस रो रही थी और सोच रही थी कि कैसे अपने पति के पास उनसे मिलने जाऊँ? क्योंकि सफ़र बहुत लंबा था और अंजान था। उसी टाईम मेरे घर पर अपनी पत्नी के साथ संजीव मतलब मेरे जीजाजी आ गये मुझसे मिलने ( यानी मेरी मुहं बोली बहन के साथ ) तो मुझे रोते देखकर उन्होंने मुझसे पूछा कि क्या बात है तुम रो क्यों रही हो? तो मैंने उनको सब बता दिया।
उस समय संजीव भी आर्मी में थे और वो मुझसे बोले कि इसमें रोने की क्या बात है अगर तुम्हे उससे मिलना है तो चल में तुम्हे वहां पर लेकर चलता हूँ। फिर दीदी ने ही मुझे कुछ सात्वना दी और उन्होंने मेरे घर पर बात करके मेरे भाई को बुला लिया और मेरे भाई ने मेरे साथ जाने के बजाए संजीव को मेरे साथ ले जाने के लिए बोला और मेरे दोनों बच्चों को वो अपने साथ गावं ले गया। फिर उसी रात को संजीव मेरे पास रहे और सुबह हम लोग एक प्राइवेट बस से दिल्ली आ गये और फिर वहाँ हमने ट्रेन में फर्स्ट क्लास में सीट बुक करवा ली और रात को दस बजे हमारी ट्रेन चली और टिकिट चेक होने के बाद संजीव ने दरवाजा बंद करके मुझे ऊपर सुला दिया और खुद नीचे सो गये और बस यही सफर मेरे लिए पहली पराए मर्द से सेक्स की वजह बन गया। रात को मुझे नींद नहीं आ रही थी और संजीव सो गये थे। शायद वो सोने का नाटक कर रहे थे।
तभी में बाथरूम जाने के लिए नीचे उतरी तो मैंने देख कि संजीव का लंड एकदम तना हुआ है और खंबे की तरह खड़ा है। में उनका लंड देखकर एकदम हैरान हो गई और मन ही मन सोचने लगी कि इतना बड़ा लंड आदमी का कैसे हो सकता है? मैंने बहुत बार चाहा लेकिन मेरी नज़र संजीव के लंड पर से हट ही नहीं रही थी। उनके लंड को बेड शीट के नीचे से देखकर ही मेरी चूत गीली हो रही थी, लेकिन अब तक में किसी पराए मर्द से चुदी नहीं थी तो इसलिए में आगे नहीं बड़ पा रही थी और फिर जैसे तैसे करके में बाथरूम में चली गई और जब में वहां से वापस आई तो मैंने देखा कि उनका लंड अब भी वैसे ही तना हुआ है और अब में बहुत डरते डरते हुए उनकी सीट पर बैठ गई और बहुत हिम्मत करके उनकी आँखों में आंखे डालकर देखने लगी कि तभी वो मुझसे बोले..
संजीव : क्यों कनिका नींद नहीं आ रही क्या? वो मेरे उनके पास बैठते ही बोले।
में : जी हाँ, मुझे नींद नहीं आ रही, थोड़ा डर लग रहा है, लेकिन दोस्तों पता नहीं उनकी क्या हालत होगी?
फिर संजीव मेरा हाथ पकड़ते हुए बोले कि डर लग रहा है तो एक काम करो थोड़ा पानी पी लो, मैंने थोड़ा पानी पिया और उसी बीच मैंने महसूस किया कि वो मुझसे थोड़ा और सटकर बैठ गए और फिर हम कुछ इधर उधर की बातें करने लगे। दोस्तों तब मैंने महसूस किया कि संजीव ने अपना लंड मेरी गांड से बिल्कुल सटा रखा था और मुझे अच्छा भी लग रहा था, लेकिन में उनसे कुछ कह नहीं पा रही थी। तभी इतने में एक स्टेशन आ गया। वहाँ पर संजीव ने दो कप चाय ली और फिर हमने चाय पी और उस समय रात के करीब दो बज रहे थे। फिर चाय पीने के बाद संजीव ने मुझसे कसम देकर पूछा कि कनिका क्या तू मुझे एक बात सच सच बताएगी?
में : हाँ अगर मुझे पता है तो में आपको जरुर बताउंगी।
संजीव : तू अभी कुछ देर पहले क्या देख रही थी? क्यों तुझे अच्छा लगा क्या? सच बोलना प्लीज़ अगर तुझे अच्छा लगा तो में तुझे और भी मज़ा दूँगा और अगर नहीं लगा तो में कुछ नहीं कहूँगा?
दोस्तों यह बात कहकर संजीव ने मेरा एक हाथ अपने हाथों में लेकर ज़ोर से दबा दिया और थोड़ा मुस्कुराते हुए मेरी तरफ देखने लगे। फिर जैसे तैसे करके मैंने कहा कि हाँ मुझे अच्छा लगा तो बस फिर क्या था संजीव मेरे ऊपर लट्टू हो गये? और अब उन्होंने मुझे अपनी गोदी में कैच कर लिया। फिर में एकदम से उनके ऐसा करने से बहुत आश्चर्यचकित हो गई क्योंकि वो मुझे अपनी छाती पर ज़ोर से दबाने लगे और जिसकी वजह से मेरी छाती उनकी छाती से दब रही थी और मुझमें एक अजीब सा अहसास ला रही थी और मेरे बदन पर उनकी पकड़ बहुत मजबूत थी और अब संजीव मेरे बूब्स को दबाने लगे और मेरी चूत को मसलने लगे और मेरे कपड़े उतारने लगे और फिर वो खुद भी नंगे हो गये और अब उनका लंबा, मोटा, तना हुआ लंड मेरी आँखों के सामने उछल रहा था। फिर उन्होंने मुझे अपनी बाहों में लेकर अब सीट पर लेटा दिया और फिर मेरी चूत को चाटने लगे। दोस्तों वैसे तो मेरे पति ने भी मेरी चूत बहुत बार चाटी थी, लेकिन आज मुझे चूत चटवाने का असली मज़ा संजीव से आया। मैंने उनके कुछ देर चाटने के बाद पानी छोड़ दिया और तब संजीव ने मुझसे अपना लंड चुसवाया और में उनके लंड का टोपा अंदर बाहर करके उनका लंड चूस रही थी। मुझे उनका लंड पूरा मुहं में लेने में दिक्कत हो रही थी क्योंकि उनका लंड बहुत मोटा था। वो बहुत मुश्किल से मेरे मुहं के अंदर जा रहा था, लेकिन उतनी ही आसानी से मेरे हलक में पहुंच रहा था और ज्यादा लंबा होने की वजह से मुझे सांस लेने में दिक्कत हो रही थी और मेरी आँखों से आंसू बाहर आने लगे थे।
फिर करीब कोई दो पांच मिनट लंड को चूसने के बाद संजीव ने मुझको खिड़की के सहारे घोड़ी बना दिया और अब एक बार मेरी चूत चाटकर एक ही ज़ोर के धक्के में अपना पूरा का पूरा लंड मेरी चूत में डाल दिया और अब में दर्द होने की वजह से बहुत ज़ोर से चीखने चिल्लाने लगी थी और अपनी चूत को आगे की तरफ करके लंड को बाहर निकालने की नाकाम कोशिश करने लगी, लेकिन संजीव की मजबूत पकड़ और मेरी चूत में फंसे हुए लंड से में थोड़ा भी आगे नहीं बढ़ सकी और अब वो मोटा और सख्त लंड मेरी चूत में लगातार आगे पीछे होने लगा था, लेकिन अब जल्दी ही मुझे भी बहुत मज़ा आने लगा और में सिसकियाँ लेने लगी उफफफफ्फ़ अहाह्ह्ह्हह्ह हाँ और ज़ोर से चोदो जीजू उुईईईईईईइ माँ मेरी चूत को और ज़ोर से मारो अहह्ह्हह्ह्ह्ह संजीव में गई। फिर कुछ देर की चुदाई के बाद संजीव ने मेरी चूत में अपना वीर्य डाल दिया और फिर वो कुछ देर वैसे ही मेरी चूत में अपना लंड रखकर रुक गया और उसके कुछ देर बाद संजीव ने मेरी चूत से अपना लंड बाहर निकाला और मेरी चूत को साफ किया और अपना लंड भी साफ किया। फिर हम दोनों एक ही सीट पर पूरे नंगे बैठकर एक दूसरे की बाहों में आकर प्यार करने लगे और चूमने चाटने लगे। फिर उस पूरी रात को दूसरी सुबह तक हमने करीब तीन बार जमकर सेक्स किया। मुझे उसकी चुदाई में बहुत मज़ा आया और फिर में अपने कपड़े पहनकर बहुत थककर गहरी नींद में सो गई, लेकिन संजीव नहीं सोए और दोपहर को जब में नींद से उठी तो मैंने देखा कि ट्रेन एक स्टेशन पर खड़ी हुई थी और संजीव ने खाना मँगवाया और ख़ाना खाकर हम दोनों फिर से सो गये। उस रात को फिर से एक बार मेरी उस ट्रेन में बहुत जमकर चुदाई हुई और इस तरह से में संजीव से चुदते हुए अपने पति के पास पहुँच गई और वहां से वापसी में भी हमने दो बार बहुत मस्त चुदाई की और उसके बाद जब तक मेरे पति जॉब पर रहे में कभी उनके साथ नहीं गई, में बस छुट्टियों में ही उनसे चुदवाती और बच्चों की पढ़ाई का बहान करके में उनकी गैरमोजूदगी में संजीव से बहुत मस्त चुदवाती रही और बहुत बार संजीव ने मुझे अपने फार्म हाउस में भी अपने साथ ले जाकर वहां पर चोदा है और मैंने उसकी चुदाई के बहुत मज़े लिए और हर कभी कोई अच्छा मौका देखकर उससे चुदवाती रही और एक बार बरसात में भीगते हुए भी संजीव से मेरी चुदाई हुई। उसने मेरी चूत को अब चोद चोदकर पूरी तरह से भोसड़ा बना दिया।

loading...

Write A Comment


Online porn video at mobile phone


चुदाई का नशाhindi chudai ki kahaniyan chacha ki ladkiyo ko.jamke choda page 8 to 52sex sas and bahu b unka damadne un dono kee batharoom me kee chodai storee hendi अनतरवासना हिन्दी पहली जबरदस्ती चुदाई 17 साल की लडकी की कहानीसेकसी सेरी कमbhabhi ki nabhi ka diwana huwasna ki khanisachi kahaneyagroup sex ki hindi kahaniमेरी बीबी ज्योतीकी चुदाई देखीसेकसी सेरी कमहाटचुदवायानॉनवेज स्टोरीसाली की गांड मारनी है क्या करे के वो मिल जाऐभाई से मेरी चूत चुदवाने की इच्छाGAON MAIN RISTON MAIN CUDAI KI LAMBI KAHANIxxxकि कहानी मौसी कै साथbehenchod chod na sale sex storygujarati codom sex, xx babi viode sxesex sali padosi se chudai karai yu top comगेंग बेगं चुदाईBhavna sexy kahaniमसतराम की कहानी जिसमे पडोसी गांव की चुदाई की कहानीxxx vedeo hijdoa ki cudaiटीचर स्टूडेंट चढ़ाईचावट कथा भाभी की सेवाmrd.mtd.ka.chodai3 fut lmba land ke cudaye xnxxxछूपके।की।चूदाई।वीडीयोठंङ मे मामी को चोदारेखा भाभी बस में चुत चुदाईसेकसी बियफ सेले साल लरकीपङोसन ने कीया सेकस के लिये मजबूर नोनवेज सटोरीmom ki chudai mene papa ksamnekari ~ sexi kahani yum stori ibahu ko jamkr choda ma meri maजबरदस्ती सील तोड़ दी पहली बारgrupsexstoryhindiruby ki chodhye hindi storybhan archives sex khanikamukta bidesi sindi ki groupchudaixx hindi kahani13 सालकी।चुदाईसेक्स।विड़ियोchote Bhai ki bibi ki choda chat par Hindi x story co..mami ki ubhri gand chudai kahani pic.रिस्तो में जमकर चुड़ैhindi me seksi kahaniyakolej se aane ke bad maa beta xnxx shuruhindi.family with.sex.story.kahani35saal ki bhabhi xxxx videohot sex stories. land chut chudayi sex kahani dot com/hindi-font/archiveantervasnasexstore.comma bahn kamuktakamkuta story dot com sali chudiदीदी sex कहानी secrets waif swooping sexy videossekci chudai hd mex** ladki ki chudai Karti ki choot mein bhi Jaya Karoon nikalna with video x** Wali Ladki Ki Chudai picsमेरी girlfriend 12 इंच लंबे लण्ड से चुदती हैxxx photo hindiमा के कहने पर मौसी की गड मारी एक साभ चुदाईअन्तरवासनामा को ब्लेकमेल करके चोदा बेटे ने कहानीदेवर अपनी लबी लड।से भाभी की चोदाई करता बिडीयो कमsix video story hindetarbuj Jaisi gand Marne Ka styleसली की गुलाबी chut ko chodakr pargnt किया सेक्स कहानियाँलवडे ओर चुत का मीलन वीडीयो डाउन लोडdriver ki sax kahanibhai bhin and mother father ki ek sath antervasna storymom.gangbanghindi.kahanirajasthani seaxi sarej bhabivideshi aurat ki bibi ke samane chudai story18 xx atha कॉमदेवर ने मेरी बूर फ़री और भाई ने मेरी गांड मारीक्यूट चची एंड भतीजा शेयर बैडरूम देसी क्सक्सक्सपारिवारिक चुदाई भग 2 न चाहते हुए भी साली को चोद दिया papa ne chuda kicgan me himdi khanimaa randy nikli hindi kahaniaबूर।चाटbhabhiyon ki chdai idi mehard.cudai.ki.kahani.vido.minonveg.com bete ne anpi sagi maa ko choda kahani hindi mesex 2050 beti ki chodaiBahan ki madad se kuwari bua ki chudai storyjawan sali x bathrum kahaniसेकसि पेलवान हिदि hinde grup sex storyristey mai chudai storychudaehindekahaneभोषडा लनड विडियो कहांनियाबूढी माँ की चूत बेटे ने शादी वीडियो सेक्सी हिंदीdidi aur bhai xxx khaniya adio hbete ne apni maa ke liye bra panty layi x kahanibhbhi ki sbse jyad pde jane wali sex storyचाची को चोदा बहाना बनाके भाई साथ सटोरी